Q2 महिला सशक्तिकरण से संबंधित संवैधानिक एवं कानूनी प्रावधानों को लिखिये।(175 शब्द)

उत्तर-महिला सशक्तिकरण महिलाओं की सामाजिक, आर्थिक व राजीनीतिक निर्णयों में भागीदारी सुनिश्चित करने का प्रयास हैं इसके लिए सरकार कई महत्वपूर्ण क़ानूर बनाये है तथा संविधान में भी स्थान दिए है। जैसे कुछ महत्वपूर्ण कानून निम्न है-
1) सती निवारण अधिनियम 1829– ये अधिनियम राजाराम मोहन राय के अथक प्रयासों से विलियम बैंटिक द्वारा पारित किया गया था। इस कानून के माध्यम से सती प्रथा को दंडनीय अपराध घोषित किया गया।
2) दहेज निरोधक अधिनियम 1961/1972 – इस कानून के माध्यम से दहेज लेने व देने वालो के लिए दंड का प्रावधान किया गया।
3) हिन्दू विवाह अधिनियम 1956– यह कानून हिन्दूओं के अलावा बौद्ध ईसाई व सिख धर्म पर भी लागू है।
4) हिन्दू उत्तराधिकार अधिनियम 1956– इस कानून जे माध्यम से पहली बार स्त्रियों को सम्पत्ति में अधिकार मिला।
5) लिंग चयन प्रतिषेध अधिनियम 1994– भारतीय समाज मे वंशवाद और दहेज के कारण गर्भ में ही लड़कियों को मार दिया जाता था। IPC की धारा 312, 313 व 314 में अवैध गर्भपात को अपराध घोषित किया गया है।
6) अनैतिक दुर्व्यापार रोकथाम अधिनियम 1956– समाज मे वेश्यावृत्ति को समाप्त करने के लिए इस अधिनियम को पारित किया गया।
7) घरेलू हिंसा से संरक्षण अधिनियम 2005– महिलाओ को सम्मान पूर्वक जीवन जीने की स्वतंत्रता हेतु इसे पारित किया गया।
इसके अतिरिक्त संविधान के अनुच्छेद 14, 15, 16, 21, 23, 41, 44 आदि में महिलाओं को संरक्षण प्राप्त है।